Archive for मई, 2008

सिसकती ज़िन्दगी

Posted by: ramadwivedi on मई 21, 2008

परजीवी लता नहीं बनना है

Posted by: ramadwivedi on मई 13, 2008

यूँ न मिटाईए

Posted by: ramadwivedi on मई 4, 2008

उसके जैसे (क्षणिका)

Posted by: ramadwivedi on मई 2, 2008